Monday, April 11, 2016

लोअर पीसीएस में सलेक्शन के लिए आलोक ह्यूमनिस्ट जी का ये लेख जरुर पढ़ें, 100% सफल होंगे.

अगर आप लोअर पीसीएस-2015 का मेंस दे रहे हैं तो UPPSC TARGET ग्रुप के एडमिन आलोक ह्यूमनिस्टका ये लेख जरुर पढ़ें. लोअर पीसीएस का किला फतह कर चुके आलोक जी का ये लेख लोअर परीक्षा को जीतने का ब्रह्मास्त्र है. अगर आपने सच्चे दिल से इन 8 बिन्दुओं को अपना लिया तो सफलता आपके कदम चूमेंगी. और आखिर में चक दे इंडिया का ये ़सुधरा हुआ डॉयलाग एक्जाम से पहले जरुर दोहराइगा. आपके पास सिर्फ 120 मिनट हैं. जाओ इन 120 मिनट में अब तक का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करो और अपनी तकदीर खुद लिख दो.

NOTE:-आलोक हयूमनिस्ट जी की पोस्ट हम UPPSC TARGET ग्रुप से साभार लेकर आपके सामने पेश कर रहे हैं. इस संबंध में  आलोक जी से बात नहीं हो पाई है, लेकिन उम्मीद है उन्हें इस पर आपत्ति नहीं होगी. अगर उन्हें आपत्ति होती है तो हम  इस पोस्ट को फौरन हटा लेंगे. 
 to 
लोअर परीक्षा 2015 की अंतिम सूची में जगह बनाने का रहस्य....
1. आप मुझे अपना बड़ा भाई समझ कर मेरी इस बात पर यकीन करिये कि आप का अंतिम चयन "पत्रलेखन, हिंदी और निबंध" प्रश्न पत्र ही निर्धारित करेगा। इस लिए अगले 13 दिनों में सबसे ज्यादा ध्यान आप इसी प्रश्नपत्र पर दें।
2. प्रयास करें कि निबंध पर इतनी अच्छी पकड़ बनाएं कि प्रश्नपत्र में आने वाले दोनों निबंध आप द्वारा पहले से फॉर्मेट किये गए या रटे गए हों।
3. पत्र लेखन के सभी पत्र (परिभाषा, विशेषता, अंग, प्रारूप, उदाहरण, तुलना) मेरे द्वारा आपको दिए जा चुके हैं। उन्हें रोज दो घंटे देखते रहे।
4. 'अपठित गद्यांश का संक्षेपण' हिंदी में पहला प्रश्न होगा। ये देखने में भले ही हलवा लगे लेकिन अगर आपने इसे गंभीरता से नहीं लिया तो यह आपके मुख्य परीक्षा के कुल नंबरों में 10-15 नंबरों का फर्क ला देगा जो आपके बाहर होने के लिए काफी है। इसलिए कल मैं आप के लिए विशेष रूप से संक्षेपण के नियम और व्याख्या के तरीक़े बताऊंगा।
5. अक्सर आप समझते हैं कि सबसे महत्वपूर्ण सामान्य अध्ययन प्रश्नपत्र है क्योंकि यह 200/400 नंबरों का है। लेकिन आप बताइये आप अगले 13 दिनों में जीएस में कमरतोड़ मेहनत कर के भी 120 प्रश्न में कितने हल कर सकते हैं। मैं बताता हूँ आप जीएस थोड़ा कम पढ़ेंगे तो 85-90 प्रश्न सही करेंगे और कितना भी अधिक पढ़ेंगे आप 95-100 प्रश्न सही करेंगे यानी जीएस में अधिक से अधिक आप 10 प्रश्न यानी लगभग 17 नंबरों की बढ़ोत्तरी करेंगे। जबकि केवल 100 नंबरों के निबंध में आप चाहें तो थोड़ा सा अतिरिक्त ध्यान देकर 70 नंबर भी झटक सकते हैं या फिर लापरवाही कर के 50 नंबर के भी मोहताज बन सकते हैं। वहीँ हिंदी में भी आप कम मेंहनत कर के 50/100 पा सकते हैं और थोड़ा सा अतिरिक्त ध्यान देकर आप इसमें 70/100 भी पा सकते हैं। यानी हिंदी और निबंध में आप कुल 20 + 20 = 40 बढ़ा सकते हैं।
6. दोस्तों ये पूरी तरह से आप के ऊपर है कि आप जीएस में 17 नंबर बढ़ाना चाहेंगे या द्वितीय प्रश्नपत्र में 40 नंबर हथियाना चाहेंगे।
7. मैं जीएस पढ़ने को मना नहीं कर रहा लेकिन जीएस में अगले 13 दिनों में सिर्फ वही विषय पढ़िए जो आप के अपेक्षाकृत कमजोर हैं। आप प्रत्येक दिन अगर 12 घंटे पढ़ रहे हैं तो 5 घंटे जीएस पढ़ें और 7 घंटे हिंदी और निबंध।
8. मैंने ताले की चाभी बता दी है आपको। खजाने तक पहुंचना आपके मेहनत और नसीब पर निर्भर करेगा।
अगर आप उपरोक्त फॉर्मूले को समझ गए तो यकीन मानिए लगभग आधे चयनित अभ्यर्थी इस ग्रुप में होंगे।
... शुक्रिया।

1 comment:

  1. Sir lower pcs 2017 ki vaccancy kab tak aayagi..aur ismae koun koun see post aati hai..plz reply

    ReplyDelete